इंडिया के इतिहास की सबसे बड़ी पेंट कंपनी

आज हम इस पोस्ट में जानेगे इंडिया की सबसे बड़ी पेंट कंपनी के बारे में. 

आप सिर्फ एक बार सोचिये आपके घर का दीवार या आपकी गाडी बिना रंग का हो तो कैसा लगेगा. रंग के बिना हमारे जीवन की कल्पना नहीं कर सकते है. इसी कमी को पूरा करती है हमारे देश की पेंट कंपनी. अगर पेंट कंपनी नहीं होती थो आपके घर सुन्दर ना होता. 

इंडिया की पेंट इंडस्ट्री की बार करे तो सबसे ज्यादा पेंट 2 खंड में उपयोग होता है.

१. Home & decorative (ये ऐसे पेंट है जो घर और सजावटी के लिए उपयोग किया जाता है.)

२. Industry (ऐसे पेंट केवल industry और manufacturing मशीन और इलेक्ट्रॉनिक्स जैसे fridge या AC में इस्तेमाल होता है.)

और में आज 2 तरीके के पेंट कंपनी की बात करुगा जो home & decorative और industry रंग बनाते है.

अगर इंडिया की बात करे तो 75% मार्किट हिस्सा होम & डेकोरेटिव का है और 25% industrial paint में है. 

होम डेकोरेटिव में दीवार के लिए बहार लगाने वाले पेंट और अंदर लगाने वाले पेंट, furniture पे लगाने वाले पेंट होते है जिसका 50,000 करोड़ का इंडिया में मार्किट है वही दूसरे तरफ industry पेंट में industry machine और electronics मशीन में उपयोग होता है. 

तो चलिए शुरू करते है

इंडिया की पेंट कपय की सूची

इंडिया की सबसे बड़ी पेंट कंपनी
इंडिया की सबसे बड़ी पेंट कंपनी

1. Asian Paints – इंडिया की सबसे बड़ी पेंट कंपनी 

Asian paints की शुरुवात Champaklal Choksey ने अपने 4 दोस्तों (Chimanlal Choksi, Suryakant Dani और Arvind Vakil) के साथ 1942 में Mumbai किया था. 

विश्व युद्ध 2 के बाद इंडिया में पेंट के import पर रुख लगा दिया गया था जिस वजेसे विदेशी पेंट कंपनी और Shalimar पेंट कंपनी इंडिया के अंदर अपना पेंट की बिक्री नहीं कर पा रहे थे. 

बस इसी चीज़ का फायदा उठाया asian paints ने और 1952 में इस कंपनी की वार्षिक कारोबार 23 करोड़ रही और 1967 आते आते ये इंडिया की सबसे बड़ी पेंट कंपनी बन गयी और आज 75 साल बाद भी इंडिया की सबसे पेंट कंपनी है.

और आज के समय में Asian paints के पास इंडिया के पेंट का 39% मार्किट हिस्सा है और ये कंपनी का ज्यादा पेंट होम और डेकोरेटिव में बिख्ता है जिससे ये पुरे Asia की तीसरी सब बड़ी पेंट कंपनी है. 

इस कंपनी के अभी के CEO Amit Syngle और चेयरमैन Ashwin दानी है और 7600 से ज्यादा कर्मचारी को रोजगार देते है.

ये कंपनी का ज्यादातर बिज़नेस पेंट से आता है जिसमे exterior paint interior paint waterproofing और लकड़ी और metal पे लगाने वाले पेंट से आता है. इसके आलावा कंपनी के बहुत सारे सर्विस भी है जैसे की पेंट सर्विस, इंटीरियर डिज़ाइन, waterproofing सर्विस, और फर्नीचर की सर्विस भी देती है.

और सिर्फ इंडिया में हे नहीं बल्कि Asian paints 15 देशों में अपना कारोबार करती है जिसमे Asia से Sri Lanka, Bangladesh, Nepal और Indonesia जैसे देश है.

Middle East में UAE, Bahrain , Oman और Qatar जैसे देश. South Pacific में Fiji, Solomon Islands और वानातू जैसे देशों में Apco Coatings के नाम पे पेंट बेचती है. और Africa में Ethiopia और Egypt में Kadisco और SCIB पेंट्स के नाम पे अपना कारोबार चलती है.

और इनकी factory की बात कराए तो खुल 26 है जिसमे से इंडिया में 10, Ethiopia में 3, Egypt, Nepal और Sri Lanka में 2 और बाकी देशों में 1 फैक्ट्री लगा राखी है. 

RPG ग्रुप कंपनी की सूची


2. Berger Paints – इंडिया की दूसरी सबसे बड़ी पेंट कंपनी 

वैसे तो Berger paints की शुरुवात 1923 में Mr. Hadfield नामक व्यक्ति ने Kolkata में एक छोटी से पेंट के थॉर पर किया था तब ये कंपनी का नाम Hadfield’s (India) Ltd. रखा गया था. फिर 1947 में British Paints ने इस कंपनी को खरीद लिया और नाम बदलकर British Paints India Ltd रख दिया.

फिर 1969 में Berger Jenson Nicholson Limited ने इस कंपनी को ख़रीदा और नाम बदलकर कर Berger paints रखा. फिर ये कंपनी का चलने का काम UB group (United Breweries) के हाथ चला गया, ये Vijay Mallya की कंपनी थी लेकिन Vijay Mallya इस कंपनी को अचे से चला नहीं सके और 1991 में इस कंपनी को Dhingra brothers को बेच दिया गया.

उसके बाद से इस कंपनी ने मानु चमत्कार हे कर दिया और आज इंडिया की दूसरी सबसे बड़ी पेंट कंपनी बन गयी. जिसका पास 25000 से भी ज्यादा dealers का नेटवर्क और 3600 से भी ज्यादा कर्मचारी काम करते है.

Berger paints के पास सिर्फ इंडिया में 16 पेंट की फैक्ट्री है, 2 Nepal,1 Poland और 1 Russia में है. इसके आलावा ये पेंट्स को बहार भी export करती है Russia Poland, Nepal और Bangladesh.

Asian paints की तरह ये कंपनी भी होम और डेकोरेटिव के खंड में अपना सबसे आगे है. 

इंडिया की सबसे बड़ी कंपनी


3. Kansai Nerolac Paints – इंडिया की सबसे बड़ी इंडस्ट्रियल पेंट कंपनी

Nerolac paints की शुरुवात 1920 में Gahagan Paints & Varnish Co. Ltd. नाम से Mumbai के Lower Parel में शुरू हुआ था.

फिर १९७६ को Tata Forbes ग्रुप ने इस कंपनी को खरीद लिया और और फिर 1999 आते आते Japan की एक पेंट कंपनी Kansai Paint Company Ltd. ने खैर लिया और 2006 में इस कंपनी का नाम बदलकर Kansai Nerolac Paints Ltd. कर दिया गया.

 ये कंपनी अपना कारोबार होम डेकोरेटिव और industry पेंट्स दोनों में करती है लेकिन Nerolac का ज्यादा कमाई industry पेंट बेचके आता है. Industrial पेंट में Nerolac इंडिया की सबसे बड़ी पेंट कंपनी है और होम डेकोरेटिव में तीसरी सबसे बड़ी कंपनी है.

Nerolac paints ज्यादातर car, cycle बनाने वाली कंपनी, electronic सामान बनाने वाली कंपनी, bus, truck company, rickshaw company, bike बनाने वाली कंपनी, फर्नीचर और बड़े मशीन बनाने वाली कंपनियों के लिया पेंट बनती है. 


4. Indigo Paints – इंडिया की सबसे बड़ी सीमेंट पेंट कंपनी

इंडिया की पेंट इंडस्ट्री में अगर कोई नयी कंपनी है तो वो है Indigo Paints, जिसकी शुरुवात Hemant Jalan ने 2000 में Pune से शुरू किया था. फ़िलहाल इस कंपनी के 3 फैक्ट्री है जो Jodhpur, Kochi और Pudukkottai में है. 

Indigo Paints सबसे ज्यादा cement paints बनती है और इसके आलावा decorative paints, emulsions, enamels, wood coatings, distemper, primers, putties भी बनती है. Indigo paints इस कंपनी को बनाने का, वितरण और बेचने का काम भी करता है.

2014 में Sequoia Capital ने इस कंपनी में 55 करोड़ का निवेश किया था और फिर 2016 में 95 crore का निवेश किया. और 2018 में Mahendra Singh Dhoni को इस कंपनी का brand ambassador बना दिया गया.

Indigo ने इंडिया की पहली दीवार पे लगाने वाली metallic paint, पहली floor coat paint, tile coat paint और ceiling कोट पेंट की शुरुवात की और इसका हे प्रचार करते हुए आपने MS Dhoni को अपने TV में भी देखा होगा.

RPSG ग्रुप कंपनी की सूची


5. Shalimar Paints – इंडिया की सबसे पुरानी पेंट कंपनी

हालांकि ये इंडिया की सबसे पुरानी पेंट कंपनी है जिसकी शुरुवात 1902 में 2 ब्रिटिश उद्यमी AN Turner और AC Wright ने शुरुवात किया था लेकिन आज के टाइम पे ये इंडिया की सबसे छोटी पेंट कंपनी है और पिछले कही सालो से ये कंपनी की कोई भी विकास नहीं हुआ है जहा दूसरी कंपनी काफी आगे निकल गयी है.

जब इस कंपनी की शुरुवात हुई थी तब ये काफी पेंट्स बनाती और बेचती थी फिर इस कंपनी को 1928 में Pinchin Johnson & Associates ने खरीद लिया फॉर 1963 में जैसे हे Turner Morisson & Co ने ख़रीदा, इस कंपनी का नाम बदलकर Shalimar Paints Pvt Ltd रख दिया गया. 

और फिर 1989 में इस कंपनी को Jindal Group और S.S. Jhunjhnuwala Group को बेच दिया गया. ये कंपनी ज्यादातर coating वाली paints बनती है जैसे की nuclear power plant के लिए विकिरण कोटिंग वाली पेंट, रेलवे के कोच में लगाने वाले पेंट, फाइटर एयरक्राफ्ट पे लगाने वाली पेंट और भी ऐसे पेंट्स बनती है.

इंडिया की सबसे बड़ी टायर कंपनी

क्या आपको पता है इंडिया की पहली इंडियन आर्मी की फाइटर एयरक्राफ्ट को पेंट करने का काम Shalimar ने  हे किया था और तो और आप इंडिया की जितने भी प्रसिद्ध जगह है जैसे की Howrah Bridge, Rashtrapati Bhawan, Salt Lake Stadium, India Institute of Medical Sciences ये सबमे शालीमार पेंट का हे इस्तेमाल किया गया है. 

एक और कंपनी है इंडिया में पेंट बेचती है जिसका नाम है Akzo Nobel जो Dulux ब्रांड के नाम से अपना पेंट बेचती है लेकिन मेने इस कंपनी को इसलिए इस सूची में जगा नहीं दी क्यूंकि में इंडिया की कंपनी नहीं है. Akzo Nobel Dutch की कंपनी है जो इंडिया में भी अपना पेंट का कारोबार करती है और ये दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी पेंट कंपनी है.

Akzo Nobel जैसा हे एक और पेंट कंपनी है इंडिया में जो पेंट का कारोबार करती है, Nippon paint जो Japan से है और ये दुनिया की चौथी सबसे बड़ी पेंट कंपनी है. लेकिन आज भी ये दोनों इंडिया में अपना जगा अच्छे से नहीं बना पाए.

सबसे बड़ी AC कंपनी की सूची

इसलिए Asian paints इंडिया की सबसे बड़ी paint कंपनी है और Berger इंडिया की दूसरी सबसे बड़ी paint कंपनी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*